info@rashtriyarajputkarnisena.com
+918588997899

करणी सेना के आक्रोश व प्रदर्शन के बाद जागा प्रशाशन तुरंत क्रेन बुलाई |

जीरापुर : मध्यप्रदेश में शीघ्र लागु होगा 10% स्वर्ण आरक्षण l व् पद्मावत आंदोलन के समय करणी सेनिको पर जो मुकदमे दर्ज हुवे है उन्हें भी वापस लिया जाएगा।

सीकर जैसी नीच घटना का होना हमारी नई पीढ़ी का राजपूत संस्कारो से दुरी बनाना व Social Media तक सिमित होकर उस पर फूहड़ प्रदर्शन मुख्य वजह है ।

सीकर आंदोलन - राजपुताना फिर हुआ एकजुट , राजस्थान के सारे राजपूत नेता आपसी मदभेद छोड़ एक साथ उतरे आंदोलन में ।

डोली के बदले अब अर्थिया उठेगी,उन दरिंदो का खून खच्चर करेंगे - करणी सेना सुप्रीमो सुखदेव सिंह की चेतावनी

SHREE RASHTRIYA RAJPUT KARNI SENA

किसी भी राजपूत , चाहे आम हो या खास के साथ राजनेतिक व् सामाजिक द्वेष के चलते किसी भी तरह के दुर्व्यवहार के होने पर पुरजोर विरोध । किसी भी राजपूत , चाहे आम हो या खास के साथ राजनेतिक व् सामाजिक द्वेष के चलते किसी भी तरह के दुर्व्यवहार के होने पर पुरजोर विरोध

SHREE RASTRIYA RAJPUT KARNI SENA

ABOUT OUR PARTY

600 वर्षों तक राजपूतों ने न केवल भारत पर शासन किया, बल्कि विदेशी आक्रमणकारियों के खिलाफ़ देश की रक्षा करें। भारतीय सभ्यता, संस्कृति तथा धर्म के संरक्षण एवं पोषण में इस जाति का प्रभाव श्लाघनीय एवं अतुलनीय है। राजनीतिक अवस्था के बाद भी राजपूत काल साहित्य, कला के उन्नति का काल था। स्थापत्य तथा शिल्पकला की इस समय बडी उन्नति हुई। मूर्तिकला और चित्रकला विकसित अवस्था में थी। साथ ही आर्थिक दशा भी इस समय अच्छी थी। अपूर्व पौरुषता और साहस की प्रतीक यह जाति बलिदान, सहिष्णुता और सिद्धांतों के त्याग के लिये इतिहास प्रसिद्ध रही है। भारतीय संस्कृति की रक्षा करने में जन समुदायों में श्रेष्ठ क्षत्रिय राजपूत कुलों का योगदान सर्वोपरि रहा है। क्षत्रिय वंशजों के खून से सिंचित यह पुरातन संस्कृति अन्यों की अपेक्षा आज भी अजर - अमर है।

क्षत्रिय वंश के उद्भव का प्रारम्भिक संकेत हमें पुराणों से मिलने लगता है कि सूर्यवंश और चंद्रवंश ही क्षत्रिय वंश परम्परा के मूल स्त्रोत है। पुराणों से संकेत मिलता है कि मनु के पूत्रों से ही सुर्यवंश की नींव पडी थी और मनु की कन्या ईला के पति बुध थे जो चंद्रदेव के पुत्र थे, इन्ही से चंद्रवंश की नींव पडी।मूल क्षत्रिय वंशों की संख्या के बारे में विद्वानों में एकमत नहीं है। कुछेक - सूर्यवंश, चंद्रवंश और अग्निवंश की चर्चा करते हैं तो सूर्यवंश, चंद्रवंश और अग्निवंश, ऋषिवंश तथा दैत्यवंश। हालाकिं अधिकांश इतिहासकार यह मानते है कि सूर्य तथा चंद्रवंश से ही सभी वंश शाखाएं है।

Sukhdev Singh Gogamedi

President

Sukhdev Singh Gogamedi is President of the Rajput community group Shree Rashtriya Rajput Karni Sena. He joined Karni Sena in 2013. As of March 2017 he is president of this group. Sukhdevsa is from Jaipur, Rajasthan. He belongs to a Shekhawat Rajput Family, who are from Royal family of Jaipur's Kachwaha Rajputs. He is the very proud man for Rajputs. He started struggles for Rajput Community on 3 March 2017, in Jaipur

Raj Shekhawat

National Vice-President

I believe in revolution and uniqueness in the professional life and everybody witnessed it. Red Fox Protection is the example to the society.

Yogendra Singh Katar

National Vice-President

श्री राष्ट्रीय राजपूत करनी सेना की नींव रखने वाले श्री योगेंद्र सिंह जी कटार जिन्होंने हर कदम कदम पर सुखदेव सिंह जी गोगामेड़ी का साथ दिया और ओर पूरे देश मे घूम घूम कर संगठन को मजबूत किया है। एंव हर गांव हर शहर में श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की टीम बनाई। योगेंद्र सिंह जी कटार को चाणक्य कहा जाता है।

Pushpendra Singh Jadoun

National media incharge

Pintu Banna

National Spokesperson

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के कट्टर सैनिक एंव सुखदेव सिंह गोगामेड़ी, योगेंद्र सिंह कटार, राज शेखावत, के सबसे लाडले एंव विश्वासपात्र में से एक है। पिन्टू बन्ना चुण्डावत ताल जो सुखदेव दादा के संगठन के साथ तब से है। जब से दादा ने अपना संगठन बनाया। सोसिअल मीडिया के जरिए संगठन की तमाम जानकारी देश के हर शहर और युवा तक पहुचाने का कार्य कर रहे है। संगठन के सभी आन्दोलन में सक्रिय भूमिका निभाई। कम उम्र में ही पिन्टू बन्ना को समाज सेवा का बहुत शौक था। 2015 से उन्होंने सूरत में बीइंग बन्ना ग्रुप बनाया और गरीब एंव जरूरतमंद लोगों की मदद करना शुरू किया। 5 साल से लगातार समाज सेवा कर रहे हैं। एंव हर वर्ग के लोगो की मदद कर रहे है। ओर सोसिअल मीडिया युवा सामाजिक कार्यकर्ता बनके उभरे। गुजरात के सूरत में लॉकडाउन में भी हजारों लोगो के खाने की व्यवस्था एंव गाँव पहुचाने में मदद की थी। इसी वर्ष 2020 में सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने उनको राष्ट्रीय प्रवक्ता की जिम्मेदारी जो बेखूबी निभा रहे है।

Manohar Singh Ghoriwara

National Secretary

JOIN KARNI SENA

To join Karni Sena is simple. Just fill up this form and we will give you the contact person near to you who will help you to join Sena.

Latest News

करणी सेना के आक्रोश व प्रदर्शन के बाद जागा प्रशाशन तुरंत क्रेन बुलाई |

Karni Sena    01 Aug 2019

6 जून - मध्यप्रदेश  : आज  श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना भोपाल द्वारा MP नगर चौराहे पर महाराणा प्रताप जन्मोत्सव पर जब माल्यार्पण करने पहुंचे तो क्रेन की व्यवस्था नहीं की गई .... जबकि हर वर्ष पहले ही क्रेन की व्यवस्था की जाती थी...      अत: प्रशासन द्वारा लापरवाही देखते हुए करणी सेना की टीम को मजबूरन धरना प्रदर्शन करना पड़ा  एवं प्रशासन को कोसते हुए एक छोटा सा जन आंदोलन किया तत्पश्चात प्रशासन द्वारा जल्द ही क्रेन की व्यवस्था की गई.....   इसके उपरांत माल्यार्पण कर  महाराणा प्रताप जी की का जमोत्सव मनाया गया | M.P.Nagar Bhopal की खासियत एम.पी.नगर जो की भोपाल का सेंटर व् बिज़नेस हब है इसका पूरा नाम महाराणा के नाम पर ही है #महाराणा_प्रताप_नगर व ब्रिज का नाम उनके घोड़े चेतक के नाम #चेतक_ब्रिज है  इतना ही नहीं एम  पी नगर में #रणथम्भौर_काम्प्लेक्स व् #विजय_स्तम्भ_बिल्डिंग भी है जो विशाल मेगा मार्ट के सामने है  Page - करणी सेना समाचारजय माँ करणी , जय राजपुताना

जीरापुर : मध्यप्रदेश में शीघ्र लागु होगा 10% स्वर्ण आरक्षण l व् पद्मावत आंदोलन के समय करणी सेनिको पर जो मुकदमे दर्ज हुवे है उन्हें भी वापस लिया जाएगा।

Karni Sena    01 Aug 2019

मध्यप्रदेश में शीघ्र होगा 10% आरक्षण लागु व् #पद्मावत आंदोलन के समय करणी सेनिको पर जो #मुकदमे दर्ज हुवे है उन्हें भी वापस लिया जाएगा।#भव्य व #सफल आयोजन की सभी करणी सेनिको व सरदारों को badhai व #जीरापुर व् जिले के सभी कार्यकर्ताओ का बहुत बहुत आभार आप सभी की मेहनत रंग लाई, जीरापुर का ऐतिहासिक आयोजन व प्रदेश टीम की मांगो को सरकार ने माना#जीरापुर कार्यक्रम में #केबिनेट_मन्त्री #प्रियवत_सिंह_जी, व #जयवर्धन_सिंह_जी दोनो केबिनेट मन्त्री ने की घोषणा। मध्यप्रदेश में शीघ्र होगा 10% आरक्षण लागु व् #पद्मावत आंदोलन के समय करणी सेनिको पर जो #मुकदमे दर्ज हुवे है उन्हें भी वापस लिया जाएगा।मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर जीवन सिंह शेरपुर नरसिंहगढ़ विधायक महाराज राज्यवर्धन सिंह जी ऊर्जा मंत्री राजा साहब प्रियव्रत सिंह नगरीय विकास मंत्री जयवर्धन सिंह रहेश्री राष्ट्रिय राजपूत करणी सेना मध्यप्रदेशजय माँ करणी जय राजपुताना   जीरापुर राजगढ़ | मध्यप्रदेश में शीघ्र लागु होगा 10% स्वर्ण आरक्षण l व् पद्मावत आंदोलन के समय करणी सेनिको पर जो मुकदमे दर्ज हुवे है उन्हें भी वापस लिया जाएगा - कैबिनेट मंत्री  प्रदेश शाशन    भव्य व #सफल आयोजन की सभी करणी सेनिको व सरदारों को badhai व #जीरापुर व् जिले के सभी कार्यकर्ताओ का बहुत बहुत आभार आप सभी की मेहनत रंग लाई,जीरापुर का ऐतिहासिक आयोजन व प्रदेश टीम की मांगो को सरकार ने माना#जीरापुर कार्यक्रम में #केबिनेट_मन्त्री #प्रियवत_सिंह_जी, व #जयवर्धन_सिंह_जी दोनो केबिनेट मन्त्री ने की घोषणा। मध्यप्रदेश में शीघ्र होगा 10% आरक्षण लागु व् #पद्मावत आंदोलन के समय करणी सेनिको पर जो #मुकदमे दर्ज हुवे है उन्हें भी वापस लिया जाएगा।श्री राष्ट्रिय राजपूत करणी सेना मध्यप्रदेशजय माँ करणी जय राजपुताना

सीकर जैसी नीच घटना का होना हमारी नई पीढ़ी का राजपूत संस्कारो से दुरी बनाना व Social Media तक सिमित होकर उस पर फूहड़ प्रदर्शन मुख्य वजह है ।

Karni Sena    01 Aug 2019

सीकर जैसी नीच घटना का होना हमारी नई पीढ़ी का राजपूत    संस्कारो से दुरी बनाना व हमारे गौरान्वित इतिहास को भूल जाना एवं Social Media तक सिमित होकर उस पर फूहड़ प्रदर्शन मुख्य वजह है। खानदानी राजपूत कभी भी अपनी माता-बहनो व अर्द्धांगनी के फोटो अपने घर के (drawing room) बैठक कक्ष में तक नहीं लगाते थे और कुछ संस्कारी राजपूत तो आज भी नहीं लगते वही उसके विपरीत नईपीढ़ी आजकल photo तो क्या social मीडिया पर अपनी घर की महिलाओ के डांस के वीडियो डाल रही और उन पर भद्दे comment जैसे sexy आदि जैसी अश्लीन टिपण्णी पर गर्व महसूस कर रहे है एवं दूसरे समाज के लोग उन video को अश्लील गानो के साथ दोबारा upload व Social Media पर Viral कर उसका लाभ उठा रहे है। वा रे रजपूती ।   हद हो गयी ,एक दुल्हन को खुले आम अपहरण करके ले गए ।  आजकल बन्ना लोग शोशल मीडिया पर मूछें ताने ओर बाईसा टिक टोक पर कमरिया लचका रहे है ।  उधर धरातल पर लोग समाज की फजीहत करे जा रहे है  ये कमजोरी मेरी ,हम सबकी व पूरे समाज की है जो ये दिन देखने को मिला ।।    कहा मर गयी वो रजपूती शांन मांन मर्यादा ।  आजकल के इस जमाने मे राजपूत अपनी संस्कृति कम्व मर्यादा से दूर भागकर जा रहा है ।    आज एक दुल्हन को लूट कर ले गए ।   एक जमाना था जब किसी भी जाति या समाज मे अगर किसी डॉली पर आंच आती तो सबसे पहले एक क्षत्रिय अपनी जान पर दांव लगाकर उस बहन को बचाते ।ओर सही सलामत डोली को घर तक पहुंचाते ।   ओर अब कलयुग से घिरे अंधेरे में ईसी समाज की बेटियों पर आन पड़ी है ।  कहा कसर रहे गयी जो आज ये दिन देखने को मिला इस समाज को ।  बस अगर आज के इस दौर से देखे तो ये इस परिवार की कमजोरी,देख रेख में कमीकहे या उस कायर बुझदिल की दादागीरी ।   बात जो भी हो पर आज पूरे समाज को सोचने पर मजबूर कर रहा है ये नाटक ।     सोचने के लिए तो दो पहलू है ।   या तो देखभाल में कमजोरी रही या ।।किसी ने जानबूझकर ये घिनोनी हरकत की है ।   अब समाज के संघटन व सेनाएं व प्रबुद्ध  जन आंदोलन करेंगे ।थानों के घेराव करेंगे उन बुझदिलो को पकड़ने के लिए ।पर होना क्या उसने तो आज समाज को उस रास्ते पर लाकर खड़ा कर दिया है की कही नाक तक काटने को नही बची ।     ये जो शोसल मीडिया का जब से जमाना आया है कोई न जाने कैसे कैसे वीडियो और फोटोज सावर्जनिक कर रहे है ।तो होना क्या है यही होगा जो आप देख रहे है ।   आज हर दिन कही न कही ऐसी घटनाएं घटित हो रही है ।चलो ये तो उजागर हो गयी जो सबके सामने है ।       आज के इस दौर में देखे तो कहा तक बचेंगे ।    हम लोग हम अपनी मांन मर्यादा को लांघ कर पश्चिमी सभ्यता की तरफ अग्रसर होते जा रहे है ।     हर किसी को आजादी चाहिए पर वो आजादी है कौनसी ये समझ मे नही आती ।  अपने परिवार से आजादी , कपड़े की आजादी ,बोलचाल की आजादी ।बस एकले रहकर ही जीना है आज के युवक व युवतियों को ।तो यही होना है ।परीवार का क्या ।   कौनसी इज्जत , किसकी इज्जत क्या करना है इज्जत का ।बस आज के इस युग मे तो खुली जिंदगी जो जिनी है क्या करना है घर परिवार ओर इज्जत का ।   जाए तो जाए ।           संभल जाओ रे राजपूतो संभालो अपनी संस्कृति, परम्परागत शैली व इतिहास को ।     समय होते नही जागे तो हालात बहुत बुरे होंगे ।  संभालो अपनी बहन बेटियों को अच्छे संस्कार दो ताकि ये दिन देखने को न मिले ।

सीकर आंदोलन - राजपुताना फिर हुआ एकजुट , राजस्थान के सारे राजपूत नेता आपसी मदभेद छोड़ एक साथ उतरे आंदोलन में ।

Karni Sena    01 Aug 2019

सीकर घटना बाद सारे राजपूत नेता एकबार फिर एकसाथ - कालवी, गोगामेड़ी, गुढ़ा, न्यांगली, मकराणा, दुर्ग सिंह खींवसर सहित सारे नेता मतभेद बुला एकजुट समाज के स्वाभिमान, मान मर्यादा पर हमला करते हुए राजपूतों की रजपूती को ललकारा गया, तब तब राजपूत समाज ने अपनी एकजुटता भी दिखाई और अपने अस्तित्व का अहसास भी कराया गया। 1986 में रूप माता सती माता  प्रकरण समय  2017-18 के पद्मावती फिल्म विरोधी आंदोलन दौरान आनंदपाल सिंह फर्जी एनकाउंटर विरोध में सांवराद आंदोलन समय तो जैसलमेर मे निहत्थे को घेरकर पुलिस गोली का शिकार किए गए चतुर सिंह सोढ़ा   फर्जी एनकाउंटर समय और राजस्थान में 80 के दशक में भवानी निकेतन के ऐतिहासिक आंदोलन समय तो 2017 में वसुंधरा राजे सरकार के इशारे पर जयपुर में गैर कानूनी रूप से किए जा रहे राजघराने की प्रौपर्टी के जबरन अधिग्रहण  समय यानी राजमहल प्रकरण समय राजपूत समाज ने एकजुटता दिखाई ..   तो पद्मावती फिल्म निर्माण समय और उस फिल्म के प्रदर्शन दौरान जब राजपूत समाज की मर्यादा पर आंच आई तो संपूर्ण भारत के क्षत्रियों ने एकजुटता दिखाते संघर्ष किया,  और सरकारी तंत्र को अपनी ताकत का अहसास कराया, लोकसभा उप चुनाव दौरान भी सारा राजपूत समाज पहली बार भारतीय जनता पार्टी का खूंटा तोड़ यह साबित किया,  कि वो किसी पार्टी के साथ भावनाओं से बंधे थे, पर किसी भी पार्टी के जर-खरीद गुलाम नहीं है  ...     तो एक बार फिर अब राजपूत समाज के मुखियाओं को अपने सारे मतभेद भुला एक मंच पर आने का मौका मिला है।   सीकर धोद थाना क्षेत्र में घटित वो बारत पर हमला कर दुल्हन को अगवा कर लेने की दुसाःहसिक और चौंकाने वाली घटना ने एक बार पुनः राजपूत समाज को एक मंच पर एकत्रित किया है।     सीकर के राजपूत छात्रावास में हजारों युवाओं को संबोधित करते हुए करणी सेना मुखिया सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने ऐलान किया, कि हम लोग यहाँ के स्थानीय नेता राजेन्द्र सिंह गुढ़ा बसपा विधायक के नेतृत्व में एकत्र हुए हैं, और हम सभी लोग इन्हीं के कमान निर्देश अनुसार आगे की कार्रवाई को अंजाम देंगे,  सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने वहाँ उपस्थित हजारों युवाओं से हामी भराई कि, क्या आप लोग भी तैयार हैं राजेन्द्र जी गुढ़ा के नेतृत्व मे कूच करने के लिए ?? क्या आप लोग वही मानेंगे जो राजेन्द्र जी गुढ़ा कहेंगे .... वहाँ उपस्थित हजारों की भीड़ ने जब भावी अभियान की कमान राजेन्द्र जी गुढ़ा नेतृत्व मे स्वीकार करने की हामी भर ली तो वहाँ सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने उन्हें अपने आक्रामक और उत्तेजक संबोधन में राजपूती को ललकारते हुए, सीकर कलेक्टर ओफिस के घेराव की ओर कूच करने का आह्वान करते हुए, उत्तेजना और आक्रोश के माहौल बीच कलेक्ट्रेट की ओर कूच किया । आभार duggibanna

भोपाल में सपाक्स के SC ST Act व आर्थिक आधार पर आरक्षण पर आयोजित महासभा में करणी सेना के शेरों ने भरी हुँकार

Karni Sena    01 Aug 2019

30 September 2018  आज भोपाल में सपाक्स के आवाहन पर आयोजित महासभा में करणी सेना और राजपूत सरदारों ने हजारों की संख्या में पहुंचकर अपना समर्थन दिया इस मौके पर श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह जी गोगामेडी व संस्थापक लोकेंद्र सिंह जी कालवी दोनों एक ही मंच पर दिखाई दीये । हजारों की संख्या में करणी सैनीक पूरे प्रदेश से और अन्य प्रदेश से आकर इसमें शामिल इस मौके पर सपाक्स ने 2 अक्टूबर को राजनीति में उतरने का भी ऐलान किया 2 अक्टूबर को वह राजनीतिक पार्टी के तौर पर चुनाव लड़ेगी व  साथ ही चुनाव चिन्ह की भी घोषणा 2 अक्टूबर को कर दी जाएगी । सपाक्स प्रदेश में 200 से ज्यादा सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करेगी।   करणी सेना के सुप्रीमो सुखदेव सिंह जीने कहां है की जो एससी एसटी एक्ट और आर्थिक आधार पर आरक्षण की बात करेगा हम उसी को अपना समर्थन देंगे सुखदेव दादा ने शिवराज सिंह चौहान और मोदी जी को खुलकर चेतावनी दी और कहा कि आप वोट बैंक के चक्कर में हम हिंदुओं को आपस में ना लड़ाये और यह भी कहा की sc-st हमारे छोटे भाई हैं भाजपा सरकार उनसे हमें लड़ा रही है आरक्षण के नाम पर।   उन्होंने यह भी स्पष्ट किया की  sc-st के लोग हमारे छोटे भाई हैं हम उनके साथ सदियों से भाईचारे से रहते आ रहे हैं और हमने कोई भेदभाव भी नहीं किया, राम ने सबरी के झूठे बेर खाये तो महाराणा ने भीलो आदिवासियों के साथ रोटी,  लेकिन आरक्षण के द्वारा उनको भ्रमित किया जा रहा है करणी सेना आरक्षण खत्म करने की बात नहीं कर रही है बल्कि 36 कोम के गरीब भाइयों के लिए आरक्षण के लिए आवाज उठा रही है जिसमें सभी जातियों समुदाय के लोग आते हैं  SC ST के गरीब लोग भी आते हैं अगर सरकार ने नहीं मानी तो दिल्ली में भी उज्जैन और भोपाल के बाद बहुत बड़ा आंदोलन होगा।

करणी सेना द्वारा राजपूताने का सबसे बड़ा प्रदर्शन ,माहारैली चित्तौरगढ़ राजस्थान में

Karni Sena    01 Aug 2019

23 September  चित्तौडग़ढ़ ।   राजपूताने का सबसे बड़ा प्रदर्शन व माहारैली का आयोजन आज करणी  सेना द्वारा चित्तौडग़ढ़ राजस्थान में किया गया जिसमे लाखो लोगो ने भाग लिया। ये किसी फिल्म का सीन नही है ये करणी सेना का प्रदर्शन है चित्तौड़ गढ़ की भूमि पर पूरा चित्तौड़ गढ़ भगवा हो गया  ,,,, जूम करके देखना      #जय_राजपुताना   #जय_माँ_करणी

Our Sponsors